Photo Stories

कठफोड़वा, उसका शिकार और शत्रु से संघर्ष

कठफोड़वा, उसका शिकार और शत्रु से संघर्ष

केवलादेव घना राष्ट्रीय उद्यान राजस्थान में स्थित एक प्रसिद्ध पक्षी अभयारण्य है। यहाँ विभिन्न प्रकार के पक्षी तथा उनके बीच कई रोचक व्यवहार देखने को...

read more
बाघों के जीवन के कुछ अनछुए पहलु

बाघों के जीवन के कुछ अनछुए पहलु

बाघों के मध्य होने वाले संघर्ष के बारे में तो सभी जानते हैं परन्तु कई बार कुछ तनाव की स्थिति में संघर्ष को टालते हुए देखा गया हैं जैसे कि, इस चित्र...

read more
एक भालू माँ और बाघिन में संघर्ष

एक भालू माँ और बाघिन में संघर्ष

बाघ को वन पारिस्थितिक तंत्र का शीर्ष शिकारी माना जाता है परन्तु कई बार अन्य जानवरों के साथ मुठभेड़ में बाघ को भी हार माननी पड़ती है। ऐसी ही एक घटना...

read more
बाघिन और उसके शावकों की सुरक्षा

बाघिन और उसके शावकों की सुरक्षा

बाघ हमेशा पानी में सावधानी से प्रवेश करता है क्योंकि पानी में अनजान खतरे हो सकते हैं।  यहाँ एक बाघिन अपने दो शावकों के साथ रणथम्भोर के एक तालाब के...

read more
नर बाघ का अपने शावक के प्रति प्रेम

नर बाघ का अपने शावक के प्रति प्रेम

नर बाघ भी अपने शावकों के प्रति प्रेम दर्शाते हैं। रणथम्भोर में एक बाघ, मादा के क्षेत्र में आ कर दहाड़ लगाता है, मानो किसी से मिलने के लिए बेताब है।...

read more
क्षेत्र के लिए नर “खड़मोर” में संघर्ष

क्षेत्र के लिए नर “खड़मोर” में संघर्ष

स्थानीय रूप से “खड़मोर” कहलाये जाने वाला, लेसर फ्लोरिकन (Sypheotides indica) भारतीय उपमहाद्वीप की स्थानिक तथा एक लुप्तप्राय प्रजाति है। प्रजनन काल...

read more
राजस्थान की “हॉक मॉथ” प्रजातियां

राजस्थान की “हॉक मॉथ” प्रजातियां

अक्सर रात के समय फूलों के आसपास तितलियों जैसे दिखने वाले कुछ कीट मंडराते हुए देखने को मिलते हैं जिन्हें "मॉथ" कहा जाता है। दरसल तितलियाँ, मॉथ से...

read more
भोजन और संघर्ष

भोजन और संघर्ष

सियार (Golden Jackal) जिसे राजस्थानी स्थानीय भाषा में "गेदुआ" कहा जाता है अपने आहार के अनुसार अवसरवादी होते हैं , प्रायः मरे हुए जानवरों को तो खाते...

read more
हिरण के सींगों से मिले पक्षियों को पोषण

हिरण के सींगों से मिले पक्षियों को पोषण

हिरणों के बड़े-बड़े, शाखाओं वाले सींगों को ऐंटलर्स कहा जाता है जो हर वर्ष गिरते हैं और फिर से नए उगते हैं। नए उगने वाले सींगों के ऊपर एक मखमली परत...

read more
किशोर गोह छिपकली पर बफ़ोटोक्सिन के प्रभाव

किशोर गोह छिपकली पर बफ़ोटोक्सिन के प्रभाव

गोह छिपकली की एक अनजाने शिकार के कारण हुई आकस्मिक मौत ... जून की गर्मियों में, जुवेनाइल गोरैया की तलाश में मैं अक्सर अपने बगीचे में घूमा करता था।...

read more
जाने, कैसे गोडावण खुद को शिकारी पक्षियों से बचाता है?

जाने, कैसे गोडावण खुद को शिकारी पक्षियों से बचाता है?

राजस्थान के सूखे रेतीले इलाकों में पाए जाने वाला गोडावण पक्षी, दुनिया का सबसे बड़े आकार का पक्षी है जो कि लगभग एक मीटर तक ऊँचा व दिखने में शुतुरमुर्ग...

read more
शांत सांडा छिपकली के जीवन के संघर्ष

शांत सांडा छिपकली के जीवन के संघर्ष

राजस्थान की मुरड़िया मिटटी वाली जमीन पर हर चार- पांच कदम बाद अपने बिल से झांकता यह उदासीन सी दिखने वाली गोल सिर की छिपकली स्थानीय भाषा में सांडा...

read more